बिहार में उद्योगों का तेजी से हो रहा विकास: उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन

पटना के गांधी मैदान में नेशनल हैंडलूम एक्सपो का भव्य शुभारंभ

 संवाददाता भारत पोस्ट

पटना । पटना के गांधी मैदान में 21 दिसंबर तक चलने वाले नेशनल हैंडलूम एक्सपो का भव्य शुभारंभ हुआ।  बिहार विधान परिषद् के सभापति अवधेश नारायण सिंह, उप-मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, उप-मुख्यमंत्री रेणु देवी और उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने नेशनल हैंडलूम एक्सपो का शुभारंभ किया। 16 दिनों तक चलने वाले इस मेले में बिहार के बुनकरों, हस्तशिल्पियों के स्टॉल तो लगे ही हैं, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, कर्ऩाटक, महाराष्ट्र, झारखंड के भी उत्पादकों ने अपने बेहतरीन हस्तशिल्प, हथकरघा और अन्य उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई है।
नेशनल हैंडलूम एक्सपो में बिहार के बुनकरों, हस्तशिल्पियों, कारीगरों के 50 स्टॉल लगे हैं तो करीब 50 स्टॉल अऩ्य राज्यों के हैं। बिहार और बिहार के बाहर के सभी स्टॉल्स में रखे उत्पाद दर्शकों और ग्राहकों को खूब पंसद आ रहे हैं। इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बिहार विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह ने कहा कि बिहार में उद्योगों का तेजी से विकास हो रहा है।
बिहार में हस्तशिल्प और हथकरघा से जुड़े पारंपरिक उद्योग सदियों से मौजूद हैं और ग्रामीण इलाकों में रह रहे लोगों को आत्मनिर्भर बनाने में इन पारंपरिक उद्योगों की बड़ी भूमिका है। उन्होंने कहा कि बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन राज्य में बड़े उद्योगों की स्थापना के साथ पारंपरिक उद्योगों को भी आगे बढ़ाने के लिए प्रयास कर रहे हैं, ये बेहद जरुरी और सराहनीय है।
उन्होंने हाल ही में दिल्ली में आयोजित भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में बिहार की प्रदर्शनी को नंबर वन का पुरस्कार यानी गोल्ड अवॉर्ड मिलने पर शुभकामनाएँ दी और कहा कि उऩ्हें बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन की क्षमता और कार्यशैली पर पूरा भरोसा है कि उनके नेतृत्व में बिहार के हस्तशिल्प और हथकरघा उद्योग तेजी से बढ़ेंगे।
बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तक – सबों का उद्देश्य है कि शहरों के साथ साथ ग्रामीण इलाकों में रोजगार के अवसर पैदा हों और इसके लिए लघु उद्योग, पारंपरिक उद्योग से बेहतर कुछ भी नहीं। उन्होंने कहा कि नेशनल हैंडलूम एक्सपो जिसकी शुरुआत पटना के गांधी मैदान में हुई है, ऐसे मेलों की बहुत जरुरत है।
उन्होंने कहा कि ऐसे मेलों से ग्रामीण इलाकों में तैयार उत्पादों को बढ़ावा मिलता है और ग्रामीण इलाकों में रह रहे लोगों का सशक्तिकरण होता है। बिहार की उपमुख्यमंत्री रेणु देवी ने भी नेशनल हैंडलूम मेले के आयोजन की जमकर सराहना की और कहा कि बिहार में औद्योगिक विकास की बयार बह चली है। बड़े उदयोग से लेकर छोटे उद्योग हर किसी को पूरा प्रोत्साहन मिला है।
उऩ्होंने बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि इन्होंने बिहार के उद्योग को नई उम्मीद दी है, नया सपना दिया है। उन्होंने कहा कि हम सब बिहार के औद्योगिक विकास के सपने को पूरा होते देखना चाहते हैं और इसके लिए जितने भी प्रयासों की जरुरत होगी, वो की जाएगी।
बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव पर हमने 75 मेले लगाने का बड़ा लक्ष्य रखा है और उसे पूरा करने की दिशा में दिन रात प्रयास किया जा रहा है। पटना के गांधी मैदान में लगे नेशनल हैंडलूम मेले के बाद भी कई मेलों का आयोजन बिहार में आऩे वाले दिनों में होने वाला है और इसका मकसद सिर्फ एक है कि बिहार के बुनकरों को, बिहार के हस्तशिल्प करीगरों को और अऩ्य पारंपरिक उद्योगों से जुड़े लोगों को बड़ा बाजार मिले, उनके बेहतरीन उत्पाद ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचे और बिहार के ग्रामीण इलाकों को आर्थिक मजबूती मिले।
बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार में डबल इंजन की सरकार का फायदा यहां के लोगों को मिल रहा है। केंद्र और राज्य सरकारों को मिलाकर इतनी योजनाएं हैं कि कोई भी छूटने वाला नहीं है। हम बिहार में बड़े उद्योगों की स्थापना के लिए कृत संकल्पित हैं तो छोटे उद्योगों को भी पीछे नहीं रहने देंगे।
पटना के गांधी मैदान में आयोजित नेशनल हैंडलूम एक्स्पो के उद्घाटन समारोह में कई राजनीतिक हस्तियों के अलावा उद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव बृजेश मेहरोत्रा, तकनीकी निदेशक पंकज दीक्षित, विशेष सचिव दिलीप कुमार भी मौजूद रहे।
16 दिनों तक चलने वाले नेशनल हैंडलूम एक्सपो में बिहार की तरफ से सिल्क साड़ी, शॉल, दुपट्टा, बेड शीट, ड्रेस मैरियल्स जैसे उत्पाद प्रदर्शनी और खरीद के लिए उपलब्ध हैं तो दूसरे राज्यों के स्टॉल्स में भी बेहतरीन हथकरघा उत्पाद दर्शकों और ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार का संकल्प पूरा होकर रहेगा। राज्य का समग्र औद्योगिक विकास होगा। छोटे-बड़े सभी उद्योग एक साथ आगे बढ़ेंगे और बिहारवासियों की उम्मीदें पूरी होंगी।