भारत ने 9 बांग्लादेशी नागरिकों का यूक्रेन से रेस्क्यू किया

शेख हसीना बोलीं- मोदी जी थैंक यू

संवाददाता भारत पोस्ट

नयी दिल्ली। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है। इस युद्ध की वजह से पूरी दुनिया चिंता में है। हालांकि भारत ने ऑपरेशन गंगा के तहत वहां फंसे अपने नागरिकों को रेस्क्यू किया। भारत सरकार की पहल की दुनिया में सराहना हो रही है। सबसे खास बात तो यह भी है कि भारत सरकार ने ऑपरेशन गंगा के तहत अपने नागरिकों का रेस्क्यू किया बल्कि पड़ोसी मुल्कों के भी नागरिकों को वहां से निकालने का काम किया गया। भारत सरकार के इस अभियान के तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल के अलावा कई अन्य देशों के नागरिक अपने मुल्क लौटे हैं। इसको लेकर भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना हो रही है और सभी शुक्रिया कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक ऑपरेशन गंगा के तहत भारत ने 9 बांग्लादेशी नागरिकों का यूक्रेन से रेस्क्यू किया है। बांग्लादेश के नागरिकों को रेस्क्यू किए जाने के बाद प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद कहां है। सरकारी सूत्रों ने कहा कि बांग्लादेश की प्रधान मंत्री शेख हसीना ने ‘ऑपरेशन गंगा’ के तहत यूक्रेन से अपने 9 नागरिकों को बचाने के लिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। इस ऑपरेशन के तहत नेपाली, ट्यूनीशियाई छात्रों को भी बचाया गया।

विदेश मंत्रालय ने बताया कि युद्धग्रस्त यूक्रेन के सूमी शहर से सभी भारतीय छात्रों को निकाल लिया गया है और छात्र बसों में सवार हो कर पोलतावा शहर के लिए रवाना हो गए हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट किया कि यह सूचित करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि हमने सूमी से सभी भारतीय छात्रों को निकाल लिया है। वे अभी पोलतावा शहर के लिए रास्ते में हैं जहां से वे पश्चिमी यूक्रेन के लिये रेलों पर सवार होंगे। उन्होंने कहा कि आपरेशन गंगा अभियान के तहत उड़ानों में उन्हें भारत वापस लाया जायेगा। उल्लेखनीय है कि भारत, 24 फरवरी को यूक्रेन पर रूस के हमले शुरू होने के बाद से, पूर्वी यूरोपीय देश में फंसे 17,100 से अधिक भारतीय छात्रों को अब तक वापस ले आया है।