खतरे की आशंका को देखते शाहीन बाग में भारी पुलिस बल तैनात

नई दिल्ली, ब्यूरो। शाहीन बाग में आज सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद कर दिया गया है। कहा जा रहा है कि हिंदू सेना की चेतावनी के बाद रविवार को शाहीन बाग की सड़क खाली करा दी जाएगी, पुलिस ने अपनी मुस्तैदी बढ़ा दी है। ज्ञात हो कि राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है। करीब ढाई महीने से शाहीन बाग रोड बंद है। अब रविवार को हिंदू सेना ने ऐलान किया है कि रविवार को यह प्रदर्शन खत्म करवा दिया जाएगा। इस घोषणा के बाद से अब शाहीन बाग में धरना स्थल पर भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है। इसके अलावा पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से धरना स्थल से उठने की अपील की है। पूरे क्षेत्र में धारा 144 लगा दी गई है।

खबर है कि इस बारे में सेना ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की है। जिसमें कहा गया था कि एक मार्च यानी रविवार को दिल्ली के शाहीनबाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों को वहां से हटा दिया जाएगा। किसी भी तरह की अव्यवस्था से निपटने के लिए धरना स्थल पर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है। हिंदू सेना के विष्णु गुप्ता ने ट्वीट किया कि दिल्ली पुलिस शाहीन बाग में सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों को हटाने में बुरी तरह से नाकामयाब रही है। भारत के संविधान के आर्टिकल 14, 19, 21 के तहत वहां आम लोगों के मूल अधिकारों का हनन हो रहा है। हिंदू सेना 1 मार्च 2020 को सुबह 10 बजे, सभी राष्ट्रवादियों को ब्लॉक की गई सड़क को खाली कराने के लिए आमंत्रित करती है। पुलिस ने शाहीन बाग में बैरिकेडिंग करते हुए चेतावनी चस्पा कर दी है कि सीआरपीसी की धारा 144 लागू होने के चलते यहां किसी भी तरह के प्रदर्शन की इजाजत नहीं है। उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। बता दें कि 15 दिसंबर से शाहीन बाग में सड़क बंद है और यहां सीएए के विरोध में प्रदर्शन चल रहा है।