गोडवाड़ टैक्सी युनियन ने मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौपा,राहत की मांग की

देसूरी। गोडवाड़ टैक्सी युनियन अध्यक्ष प्रकाश मेवाडा ,देसूरी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को उपखंड अधिकारी के माध्यम से ज्ञापन भेजकर टैक्सी चालकों को लॉक डाउन के दौरान सहायता राशि,बीमा लाभ व खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने की मांग की हैं।
मेवाडा ने उपखंड अधिकारी राजलक्ष्मी गहलोत को सौंपे ज्ञापन के अनुसार प्रदेश में टैक्सी व्यवसाय से जुड़े हज़ारों वाहन चालक कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते लॉक डाउन का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसगी के लिए घरों में बैठे हैं। उन्हें उम्मीद थी कि 14 अप्रैल को लॉक डाउन समाप्त हो जाएगा और उनकी रोजी रोटी पुनः शुरू हो जाएगी। लेकिन यह लॉक डाउन बढ़ने से टैक्सी चालकों के परिवार विकट परिस्थिति झेलने लगे हैं।
मेवाडा ने अपने ज्ञापन में लिखा कि राज्य सरकार ने किसानों,मजदूरों,व्यापारियों,नौकरी पेशेवर, मध्यम व गरीब परिवारों को राहत के कई उपाय किए हैं। जो यक़ीनन जरूरतमंदों के लिए राहत भरे हैं और जो वर्तमान राज्य सरकार को एक जन कल्याणकारी सरकार सिद्ध करता हैं।
ज्ञापन में लिखा कि आम आदमी को इसी राहत देने वाली आपकी कल्याणकारी सोच के चलते टैक्सी ड्राइवरो की परिस्थिति पर भी विचार करने की जरूरत हैं। जिसकी हालत दिहाड़ी मजदूर जैसी ही हैं। रोज कमाना और परिवार चलाना। अब जब कमाई का अवसर ही नही मिल रहा हैं तो घर कैसे चलाए? कमाई न होने से प्राइवेट फाइनेंस से लोन पर खरीद रखी गाड़ियों की क़िस्त का भी टेंशन ऊपर से हैं।
ज्ञापन में राज्य सरकार से टैक्सी ड्राइवरो की बुरी परिस्थिति पर विचार करने को कहा गया और लॉक डाउन के दौरान सहायता राशि,बीमा लाभ व खाद्य सामग्री उपलब्ध कराकर राहत प्रदान करने की मांग की गई हैं।