सुबह से बिल्कुल साफ मौसम ने ली करवट बरस रहा है झमाझम पानी

गगन मिश्रा पड़रिया तुला क्राइम रिपोर्टर
शायद मानव जीवन को प्रकृति संदेश दे रही हैं कि अभी नहीं चेते तो अस्तित्व मिट जाएगा लेकिन प्रकृति का ये संदेश अभी लोगों की समझ में नहीं आ रहा है आप ही देखिए की इस समय एक विश्वव्यापी बीमारी से जहां पूरा विश्व दहशत में है और कुछ कोई कर भी नहीं पा रहा ना ही कोई तकनीक काम आ रही है और ना ही विज्ञान कोई खास रोकथाम कर पाया है वही इस समय बेमौसम बारिश ओलावृष्टि और आंधी ने भी कहर ढाया हुआ है आज भी बहुत ही तेज धूल भरी आंधी चल रही है और मौसम देख कर लगता है बहुत ही भयंकर बारिश होगी और भी कहर ढा सकती है हम भी हंसने भी बर्बाद होने के आसार यह शायद प्रकृति की चेतावनी है कि हमारे द्वारा यह जा रहे अंधाधुंध पेड़ों के कटान अवैध खनन और प्रदूषण से हम ही अपनी जान आफत में डाल रहे हैं परंतु यह शायद अभी समझ में नहीं आ रहा है सभी लोग प्रकृति के इशारे को समझें और ज्यादा से ज्यादा वृक्षारोपण करें प्रदूषण कम करें पॉलिथीन का उपयोग बंद करें अपने फायदे के लिए प्रकृति को नष्ट ना करें अन्यथा भयावह स्थित से सामना करना पड़ सकता है।।।