विशाखापट्टनम से मोतिहारी पहुंची श्रमिक स्पेशल ट्रेन में दिखे कम मजदूर, 6 बोगियां रही खाली

मोतिहारी केंद्र से मंजूरी मिलने के बाद प्रवासियों की राज्य वापसी का सिलसिला लगातार जारी है. इसी क्रम में देर रात एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन विशाखापट्टनम से बापूधाम मोतिहारी स्टेशन पहुंची. ये ट्रेन तय समय से तकरीबन 8 घंटा लेट पहुंची. वहीं, ट्रेन में निर्धारित संख्या से कम लोग ही नजर आए. लगभग 6 बोगियां खाली आईं.  
दरअसल, जिला प्रशासन को 22 जिले के 1354 श्रमिकों की सूची प्राप्त हुई थी, जो इस ट्रेन से आने वाले थे. लेकिन ट्रेन से लगभग साढ़े 500 मजदूर ही उतरे. स्पेशल ट्रेन से उतरे प्रवासी मजदूरों की प्लेटफॉर्म पर ही थर्मल स्क्रिनिंग की गई. इस दौरान डीएम और एसपी के साथ पूरी प्रशासनिक टीम स्टेशन पर मौजूद रही. 
*सभी को किया जाएगा क्वारंटीन*
जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने बताया कि स्पेशल ट्रेन से उतरे श्रमिकों के लिए भोजन का पैकेट और पानी के बोतल की व्यवस्था की गई है. खाना खिलाने के बाद श्रमिकों को बस से संबंधित जिलों में भेजा जाएगा. जहां उन्हें क्वारंटीन किया जाएगा. 
*लॉकडाउन के कारण हो गई थी परेशानी*
श्रमिक ट्रेन से उतरे बेतिया के लौकरिया के रहने वाले दुर्योधन चौधरी ने बताया कि वे विशाखापट्टनम में एक मिस्त्री के हेल्पर में काम करते थे. लेकिन, लॉकडाउन के कारण वहां परेशानी होने लगी थी. जिस कारण वह लौट कर आना पड़ा. उसने सरकार को धन्यवाद देते हुए कहा कि सरकार ने उनके लिए अच्छी व्यवस्था की है.