गरीब महिलाओं का पैसा निकाल कर इलाहाबाद बैंक मित्र शकील अहमद ने कई बार घोटाला किया

 

तहसील धौरहरा के अंतर्गत ग्राम पंचायत लहबड़ी मे करोना जैसी महामारी और लाकडाउन का किसी पर असर पड़ता नजर नहीं आ रहा है आपको बताते चलें कि इलाहाबाद बैंक मित्र शकील अहमद ने गरीब महिला के खाते से 5000 धनु राशि निकाल लिए उस महिला का नाम कलावती स्वर्गवासी मेवालाल जो निवासी अकठी पीड़ित कलावती गौतम न्याय के लिए दर-दर भटक रही इसके बारे में थाना प्रभारी निरीक्षक हरिओम श्रीवास्तव सूचना दी गई थाना प्रभारी हरिओम श्रीवास्तव ने अभी तक इसका कोई न्याय नहीं किया कलावती तीन छोटे-छोटे बच्चे थे वह किसी ना किसी प्रकार से अपना गुजारा कर रही थी आज सुबह कलावती अपने घर से लहबडी बैंक गई बैंक मित्र शकील से कहा कि हमारी खाते में देखो कितने पैसे हैं तभी शकील अहमद ने कलावती का अंगूठा लगवा लिया और कहा तुम्हारे खाते में पैसे अभी नहीं आए हुए हैं शकील अहमद ने कहा कि हम अपने पास से ₹500 दे रहे हैं कलावती वहां से अपने घर को चली आई तभी उसको कुछ शक हुआ कि जब हमारे खाते में पैसे नहीं थे तब हमको किस लिए पैसे दे दिए गए हमको लगता है कि हमारे खाते में कुछ गड़बड़ी है तभी दूसरी बीसी पर अपनी पासबुक चेक करवाई पासबुक चेक करवाने पर उसमें पता चला कि ₹5000 हजार रुपए शकील अहमद ने निकाल लिए जिसमें से ₹500 कलावती को दिया था कलावती ने दोबारा शकील अहमद के बैंक पर गई और कहा कि तुमने हमारे खाते से ₹5000हजार रुपये निकाले शकील अहमद ने कहा कि हमने तुम्हारे खाते से पैसा नहीं निकाला कलावती जब ज्यादा रोने धोने लगी तभी शकील अहमद ने कहा कि हमने केवल ₹2000 निकाले हैं वही हम दे सकते हैं आपको अन्यथा आपकी इच्छा चाहे जो कुछ करवा लेना हम किसी से डरते नहीं हैं इलाहाबाद बैंक मित्र शकील अहमद ऐसी हरकतें कई ग्राम पंचायत वासियों के साथ कर चुका है किसी का 5000 किसी का 10000 गुप्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लहबडी के कुछ लोगों का कहना है कि खुद अपने ही रिश्तेदारों का पैसा निकाल चुका है कई बार और रानी पुरवा में कई महिलाओं का पैसा निकाल चुका है इसके बारे में कई बार थाने में एप्लीकेशन के माध्यम से अवगत कराया गया परंतु अभी तक कोई कार्रवाई ना हुई है ना होने की संभावना है