नौबतपुर में दशवी क्लास का छात्र ने बना डाला एफिल टावर का आकृति, लॉक डाउन में घर बैठे कुछ करने का बनाया था मन।

 

दीपक कुमार

पटना । नौबतपुर- अभी पूरा देश कोरोना वायरस बीमारी से ग्रशित है। इसी बीच राजधानी पटना से सटे नौबतपुर बाज़ार के रहने वाले दसवीं क्लास के बच्चा ने अपनी कला पेश की है। इस छोटे बच्चा ने अपनी कला दिखाते हुए फ्रांस की राजधानी में स्तिथ एफिल टावर का आकृति बनाकर सभी को अपनी ओर आकर्षित कर लिया है। इस दशवी क्लास का छात्र गरीब परिवार का रहने वाला है।
आपको बता दें कि नौबतपुर थाना से कुछ ही मीटर की दूरी पर रहने वाले अजय कुमार पंडित का पुत्र कुन्दन कुमार अपने पढ़ाई के साथ साथ कला में भी रुचि दिखाई है। कुन्दन कुमार नौबतपुर में स्तिथ सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल के दशवी क्लास का छात्र है। कुन्दन कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस बीमारी को लेकर जब पूरा देश में लॉक डाउन लगा तो हमने घर बैठे कुछ कर दिखाने को सोचा और फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्तिथ एफिल टावर के आकृति बनाने लगा। एफिल टावर का आकृति बनाने में पूरे 25 दिन लगा है। वहीं पूछे जाने पर कुन्दन कुमार ने बताया कि हमलोग गरीब परिवार से गुजरते है। मेरे पिता जी राज मिस्त्री और मूर्ति बनाने का काम करते है। लॉक डाउन में हम सभी लोग अपने घरों में रह रहे है इसी बीच हमने अपने पिता जी से बोला की आप हमें बास की कुछ छरी लाकर दीजिए घर बैठे अब कुछ करना चाहते है फिर क्या एक बेटे का बाप ने अपना फर्ज पूरा किया और बास की कुछ छरियां लाकर दें दी। उसके बाद छात्र कुन्दन कुमार ने अपनी कला दिखाते हुए एफिल टावर का आकृति बना डाला। अफिल टावर का आकृति बनाते ही नौबतपुर में कुन्दन कुमार की चर्चा होने लगी।