गुरूद्वारा में आग लगने से गुरू साहिब के चार स्वरूप अग्नि के भेंट चढ़े

सरदार कर्मपालसिह सवाली /पूजा कुमारी भील
श्रीगंगानगर, । जिले के मटीली राठान थाना क्षेत्र के गांव आठ क्यू में स्थित श्री गुरूद्वारा साहिब में आज तड़के आग लग गई। इस कारण गुरू साहिब के चार स्वरूप अग्नि की भेंट चढ़ गए। इस घटना का पता आज सुबह ग्रंथी के गुरूद्वारा साहिब में पहुंचने पर लगा और आग को बुझाया। घटना की जानकारी मिलते ही सिख संगत गुरूद्वारा साहिब पहुंच गई। पुलिस व प्रशासन के अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे और मौका मुआयना किया।
दु:खद घटना का पता चलते ही गुरूद्वारा धन धन बाबा दीप सिंह जी शहीद के मुख्य सेवादार तेजेन्द्रपाल सिंह टिम्मा, जीत सिंह लखियां, स्वर्ण सिंह फौजी, हरप्रीत सिंह बबलू भाटिया, लवप्रीत सिंह बराड़, संदीप सिंह सोना, गुरमीत सिंह मिर्जेवाला, जसवीर सिंह पिंकू, बलकरण सिंह, लखविन्द्र सिंह लक्खा, राजेन्द्र सिंह, सर्दूल सिंह, कुलराज सिंह बराड़, रणजीत सिंह, गुरविन्द्र सिंह, जसवंत सिंह, जगदेव सिंह काली आदि भी गुरूद्वारा साहिब में पहुंचे। मुख्य सेवादार तेजिंदर सिह टिम्मा ने बताया कि बताया कि घटनास्थल की जांच करने के बाद पता चला कि रात्रि को जाते समय ग्रंथी बिजली का चेंजर बंद करना भूल गया था, जिसके चलते तड़के शॉर्ट सर्किट हुआ, जिससे आग लग गई और गुरू साहिब के चार स्वरूप अग्नि के भेंट चढ़ गए। श्री टिम्मा ने पूरे घटनाक्रम की विस्तृत जानकारी अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह, जिला प्रशासन, शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेेटी के सदस्य सुरजीत सिंह कंग को दी। अकाल तख्त साहिब ने घटना की जांच के लिए धर्म प्रचार कमेटी के सदस्यों की ड्यूटी लगाई।