अब सोशल डिस्टेंसिंग के साथ होंगी बोर्ड परीक्षाएं, बढ़ाए जाएंगे परीक्षा केंद्र

 

जोधपुर. दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं के शेष एग्जाम अब आगामी महीनों में होंगे। जानकारी आ रही है कि सीबीएसई के बाद राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड भी परीक्षा केन्द्र बढ़ाएगा। ऐसे में जो परीक्षा केन्द्र पूर्व में नहीं थे, उन्हें भी शामिल किया जाएगा। बोर्ड परीक्षाओं को लेकर जोधपुर शिक्षा विभाग के पास कोई विस्तृत दिशा-निर्देश नहीं आए है।
इस साल 12वीं बोर्ड परीक्षा में जोधपुर जिले में 42 हजार 9 सौ 50 परीक्षार्थी हिस्सा ले रहे हैं। वहीं दसवीं बोर्ड परीक्षा में 61 हजार 9 सौ 66 परीक्षार्थी हिस्सा ले रहे हंै। दसवीं-बारहवीं बोर्ड के लिए 282 केन्द्र बनाए गए हैं। वहीं जरूरत पड़ी तो शिक्षा विभाग राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालयों को भी परीक्षा केन्द्र के रूप में डवलप कर सकता है, लेकिन समस्या ये हैं कि यहां फर्नीचर की कमी है। स्कूल शिक्षा के संयुक्त निदेशक प्रेमचंद सांखला ने कहा कि बोर्ड से अभी तक किसी प्रकार के दिशा-निर्देश नहीं दिए गए है। जो निर्देश आएंगे, उसी अनुसार कार्य होगा। निजी स्कूलों में सेंटर रखने की मांग जानकारी अनुसार कई निजी स्कूलों ने मांग रखी है कि उनके बच्चों का सेंटर, उन्हीं की स्कूल में रखा जाए। जबकि इसकी जगह वीक्षक भले ही सरकारी लगा दिए जाए। ऐसे में उम्मीद हैं कि इस बार बच्चों को अपनी स्कूल में भी बोर्ड परीक्षा देने का मौका मिल सकता है। स्कूलों के लिए भी चुनौती जुलाई माह में सरकारी व निजी दोनों स्कूलें शुरू हो सकती है। ऐसे में जानकारी आ रही है कि एक क्लास में आधे बच्चों को एक दिन और आधे बच्चों को दूसरे दिन बुलाया जा सकता है। ताकि सोशल डिस्टेंसिंग की पालना की जा सके। हालांकि इस तैयारी को लेकर अभी कोई अधिकृत पुष्टि नहीं हुई है। एमएचआरडी ने भी सुझाव मांगे है।

कोटा ओपन की परिक्षाए 18 से होगी
वर्धमान महावीर ओपन विश्वविद्यालय कोटा की विभिन्न विषयो की परिक्षाए आगामी 15 जुलाई से प्रस्तावित की गई। वर्धमान महावीर ओपन विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय समन्वयक ओसिया डॉ बी एल जाखड ने बताया कि कोटा खुला विश्व विद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आए एल गोदारा की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद विभिन्न विषयो की परीक्षाए 15 जुलाई से प्रस्तावित की गई है। इसके लिए विभिन्न विषयो की परीक्षाओ की तिथिया भी जारी की गई है।