मुजफ्फरपुर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

 

इस वक्त की बड़ी खबर मुजफ्फरपुर से आ रही है, कई महीनों से पुलिस के लिए सिर दर्द बना कुख्यात बिट्टू ठाकुर को उसके गिरोह के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही हथियार व कारतूस भी जप्त किया गया है. हाल के महीनों में मुजफ्फरपुर जिला के विभिन्न थाना क्षेत्र में कई राष्ट्रीय कृत बैंको और माइक्रो फाइनेंस संस्थानों में लूट की घटनाएं हुई थी.मामलों की गंभीरता को देखते हुए एसएसपी के निर्देश में पुलिस अधीक्षक नगर के नेतृत्व में छापेमारी दल का गठन कर सभी कांडों के सफल उद्भेदन और मास्टरमाइंड की गिरफ्तारी हेतु कार्य शुरू किया गया. कुछ अपराध कर्मियों के गिरफ्तारी से तथा लगातार आसूचना संकलन से इन कांडों के पीछे कांटी थाना क्षेत्र के कुख्यात बिट्टू ठाकुर एवं झुनझुन ठाकुर द्वारा संचालित अंतरराज्यीय गिरोह का पता चला. सूचना संकलन करने के दौरान यह गिरोह तकनीकी रूप से काफी दक्ष पाया गया. जिसके लोकेशन वगैराह की जानकारी पुलिस बल के लिए बड़ी चुनौती थी. उन्हें गिरफ्तार करने के लिए एसएसपी के द्वारा विशेष टीम का गठन किया गया . इस टीम में अत्यंत दक्ष तरीके से लगातार मानवीय और तकनीकी सूचना संकलन के आधार पर करवाई की.तथा गिरोह के टॉप 3 वांछित अपराध कर्मियों को एक साथ पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार किया गया.
बता दें कि यह गिरोह आपस में संवाद करने के लिए VOIP और WHATSAPP कॉल का प्रयोग करता था. ताकि इनकी गतिविधियों की भनक किसी को नहीं लगे. सभी तीनों गिरफ्तार अपराध कर्मियों से पूछताछ के आधार पर छापेमारी में हथियार भी बरामद हुए हैं. और अन्य बचे अपराध कर्मियों के बारे में महत्वपूर्ण सुराग भी मिले हैं. गिरफ्तार अभियुक्तों ने शराब के धंधे में वर्चस्व की लड़ाई में जेल में बंद अवैध शराब माफिया गोलू ठाकुर एवं मिथिलेश सिंह की कोर्ट में पेशी के दौरान हत्या करने की योजना बनाई थी. जिसे समय रहते विफल किया गया. गिरोह के द्वारा अभी तक विभिन्न बैंक डकैती में करीब 68 लाख रुपए लूटा जा चुका है.