लगातार डीजल की कीमतों में हो रही से आम जन जीवन पर पड़ा असर सबसे ज्यादा नुकसान किसानों का

गगनमिश्र
महंगाई की मार: पेट्रोल के करीब पहुंचे डीजल के दाम, इन सेक्टर पर होगा असर
महंगाई की मार: पेट्रोल के करीब पहुंचे डीजल के दाम, इन सेक्टर पर होगा असर
*लखीमपुर खीरी*- पेट्रोल और डीजल के दाम लगातर 15 दिनों से बढ़ रहे हैं। बढ़ते दामों के बीच अब पेट्रोल के बराबर लगभग डीजल पहुंच चुका है। पेट्रोल से कुछ पैसे कम अब डीजल के दाम हैं। ऐसे में महंगाई की मार अब सीधे जनता पर पड़ रही है। वहीं, जनता कोरोना काल के दौरान पहले से ही संकट से गुजर रही है। ऐसे में पेट्रोल—डीजल के बढ़ते दाम जनता की जेब पर असर डालेंगे।
लखीमपुर खीरी में गुरुवार को पेट्रोल की कीमत 81.11 रुपये प्रति लीटर हो गई है, जो कि वहीं डीजल की कीमत गुरुवार को 72.63 रुपये के मुकाबले हो गया डीजल की कीमत ऐतिहासिक ऊंचाई पर पहुंच गई है। देश में कभी पेट्रोल और डीजल की कीमत में 10 रुपये लीटर से ज्यादा का अंतर होता था।
महंगाई की बढ़ेगी मार
डीजल और पेट्रोल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी से अब जनता पर महंगाई की मार सीधे पड़ेगी। इससे ट्रांसपोर्ट की लागत बढ़ जाएगी और महंगाई भी बढ़ेगी। ऐसे में जनता पर दोहरी मार पड़ेगी। एक तरफ ट्रांसपोर्ट के लिए ज्यादा किराया देना पड़ेगा और महंगे सामान खरीदने पड़ेंगे। इसका ऑटो सेक्टर की बिक्री पर भी काफी गंभीर असर पड़ेगा।
*किसानों पर पड़ेगा असर*
डीजल के दामों में हो रही बढ़ोत्तरी के कारण किसानों पर इसका व्यापक असर पड़ेगा। दरअसल, इस समय धान की रोपाई का काम चल रहा है। जिसमें किसान बड़े स्तर पर डीजल इंजन के द्वारा खेतों में पानी चलाते हैं। ऐसे में डीजल के बढ़ते दाम किसानों की कमर तोड़ने का काम करेगी।
*डीजल कारों की बिक्री पर पड़ेगा असर*
डीजल की बढ़ती कीमतों से डीजल कारों की बिक्री पर बहुत गंभीर असर पड़ रहा है। कुछ साल पहले डीजल कारों को एक बेहतर विकल्प बताते हुए भारत में उतारा गया था और कं​पनियों ने इनके प्लांट के लिए सैकड़ों करोड़ रुपये का निवेश किया है। लेकिन अब डीजल-पेट्रोल की कीमत बराबर होने से लोग डीजल कारों को खरीदने से बच रहे हैं।