पुलिस हिरासत में वृद्ध की मौत, हंगामा

गगनमिश्रा
पलिया कला की मझगई पुलिस पर वृद्ध को टॉर्चर किए जाने का आरोप पलिया कोतवाली के गांव गुलरा टांडा निवासी वृद्ध की पुलिस कस्टडी में हुई मौत के बाद सीएचसी में मौजूद पुलिस बल।

पलियाकलां लखीमपुर खीरी।
गोकशी के आरोप में पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए मझगई चौकी क्षेत्र के गांव गुलरा टांडा निवासी एक वृद्ध को मझगई पुलिस कर्मियों ने इस कदर पीटा कि उसकी सीएचसी में मौत हो गई। मृतक के परिजन व ग्रामीण किसी तरह का हंगामा न कर सके इसको लेकर आनन-फानन में कई थानों की पुलिस को सीएचसी बुला लिया गया म्रतक पुलिस का मुखबर बताया जा रहा है।
कोतवाली में पहुंचे मृतक के परिजनों द्वारा पुलिस के खिलाफ हंगामा किया गया पुलिस का कहना है कि आरोपी को गोकशी के आरोप में कोतवाली लाया जा रहा था। रास्ते में हालत बिगड़ने पर उसे सीएचसी में भर्ती कराया गया जहां उसने दम तोड़ दिया। जबकि सूत्रों की माने तो पुलिस ने मृतक को किसी मामले में रात को गिरफ्तार किया था।  रात में मझगई पुलिस द्वारा टॉर्चर किए जाने के बाद सुबह उसकी हालत बिगड़ने पर सीएचसी में भर्ती कराया गया जहां कुछ समय बाद उसकी मौत हो गई।
सीओ कुलदीप कुकरेती ने बताया कि गोकशी की सूचना पर सुबह पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची थी। मौके से पुलिस ने गोधन (60) पुत्र कल्लू सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया था। रास्ते में अचानक गोधन की हालत बिगड़ गई आनन-फानन में उसे सीएचसी में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना पर परिजनों ने ग्रामीणों के साथ नौगवां हाईवे पर बांस लगाकर जाम लगा कर घंटो मार्ग अवरुद्ध किया।  एडिशनल एसपी के समझाने तथा आर्थिक सहयोग के बाद जाम खोल दिया गया उन्होंने मृतक के परिजनों को आश्वासन दिया कि मामले की जांच के बाद आरोपी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी।
पुलिस रही मुस्तैद चप्पे-चप्पे पर रहे निगरानी पुलिस कस्टडी में हुई वृद्ध आरोपी की मौत के बाद किसी तरह का बवाल ना हो सके इसको लेकर पहले ही पुलिस अलर्ट हो गई थी। घटना के बाद संपूर्णानगर, गौरीफंटा, चंदन चौकी, गोला, निघासन, भीरा तथा मैलानी सहित कई थानो व कोतवाली के पुलिस बल ने पलिया में डेरा डाल दिया तथा मझगयी मे पीएसी तैनात करादी गयी  इसके अलावा करीब 4 सर्किल के सीओ तथा खुद एडिशनल एसपी अरुण कुमार आ पहुंचे और पूरे प्रकरण को आसानी से निपटाने में सफलता भी हासिल की।