PCS अधिकारी मणि मंजरी राय ने लगाई फांसी

 उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में तैनात महिला पीसीएस अधिकारी की आत्महत्या का मामला सामने आया है। सोमवार की रात अधिकारी का शव फांसी से फंदे से लटका मिला। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें महिला अधिकारी ने सिस्टम पर गंभीर आरोप लगाते हुए खुद को राजनीति में फंसाए जाने की बात लिखी है।

पीसीएस अधिकारी मणि मंजरी राय (30) पिछले दो साल से मनियर नगर पंचायत में अधिशाषी अधिकारी (ईओ) के पद पर तैनात थीं। मंजरी राय बलिया शहर कोतवाली क्षेत्र के आवास विकास कालोनी में रहती थीं। सोमवार की देर रात पंखे से उनका शव फांसी से लटकता हुआ मिला। सूचना मिलते ही डीएम श्रीहरि प्रताप शाही व एसपी देवेंद्र नाथ के साथ ही फोरेंसिक टीम पहुंच गई। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी मिला है। सुसाइड नोट में मंजरी ने लिखा है, ”दिल्ली, मुंबई से बचकर बलिया चली आई, लेकिन यहां रणनीति के तहत फंसाया गया है, इससे मैं काफी दुखी हूं।”

पिता ने लगाया हत्या का आरोप

पीसीएस अधिकारी मंजरी राय के पिता ने बेटी की हत्या कर उसे फांसी से लटकाए जाने का आरोप लगाया है। परिजनों ने कहा कि उनकी बेटी पर लगातार नियमों के खिलाफ काम करने का दबाव बनाया जा रहा था। परिजन अजीत कुमार का कहना है कि मंजरी पर बगैर टेंडर के काम और भुगतान के लिए भी दबाव दिया जा रहा था। मंजरी के मामा अजीत कुमार ने बताया कि जब से वह मनियार में तैनात हुई थी तभी से परेशान रहती थी। उस पर बिना काम के पेमेंट का दबाव बनाया जाता था। अजीत कुमार ने कहा कि उससे जब भी बात हुई तो बताती थी कि उस पर लगातार बिना टेंडर काम कराने और पेमेंट जारी करने का दबाव बनाया जाता था और वह नियमों से ही काम करना चाहती थी।

पूर्व मंत्री ओपी राजभर ने किया ट्वीट

योगी सरकार के सहयोगी रह चुके पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने पीसीएस अधिकारी की आत्महत्या मामले में ट्वीट किया है। राजभर ने शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए लिखा, ”एक ईमानदार अधिकारी चढ़ गई सिस्टम की भेंट? बलिया के मनियर नगर पंचायत में तैनात महिला PCS अधिशासी अधिकारी मणिमंजरी राय ने खुद के खिलाफ हो रहे षड्यंत्र से तंग आकर आत्महत्या करना अत्यंत दुखद!