कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए

नई दिल्‍ली। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बेंगलुरू के शहरी और ग्रामीण जिलों में 14 जुलाई की रात 8 बजे से 23 जुलाई के सुबह पांच बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गई है। इस दौरान जरूरी सेवाओं में छूट जारी रहेगी। इसके अलावा महाराष्ट्र, असम, केरल अरुणाचल प्रदेश समेत कई राज्यों ने अपने यहां विभिन्‍न इलाकों में दोबारा लॉकडाउन लागू करने या उसे बढ़ाने का एलान किया है। संक्रमण के नए मामलों को ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन को ज्यादातर राज्यों में क्षेत्रवार रूप से लागू किया गया है।

महाराष्‍ट्र के कुछ जिलों में लॉकडाउन 

महाराष्ट्र के पुणे, पिंपरी-चिंचवाड़ और जिले के कुछ अन्य हिस्सों में 10 दिनों के लिये लॉकडाउन लागू किया गया है, जो 13 जुलाई से शुरू होगा। इसके अलावा ठाणे और नवी मुंबई नगर निकाय इलाके में भी 19 जुलाई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है।

नगालैंड और बिहार में लॉकडाउन

नगालैंड ने भी राज्य में लागू लॉकडाउन 31 जुलाई तक बढ़ाने का निर्णय लिया है। मेघालय सरकार ने सोमवार से राजधानी शिलांग में दो दिनों का पूर्ण लॉकडाउन लागू करने की घेाषणा की। बिहार में राजधानी पटना के साथ कैमूर, बक्सर, नवादा, सुपौल, मधेपुरा, खगड़िया, मुंगेर, किशनगंज, मुजफ्फरपुर,पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, नालंदा, भागलपुर, बेगूसराय, मधेपुरा में लॉकडाउन लागू है।

पश्‍च‍िम बंगाल में सात दिनों के लिए पाबंदियां 

पश्चिम बंगाल में राज्य के निरूद्ध क्षेत्रों में बृहस्पतिवार को सात दिनों के लिए लॉकडाउन लागू किया गया था। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी शुक्रवार रात दस बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू की हैं। जम्मू-कश्मीर के राजौरी शहर और उससे लगे इलाकों को सील कर लोगों को घरों में रहने के लिए कहा गया है ताकि संक्रमण के फैलने की रफ्तार को कम किया जा सके।