दक्षिणी पूर्वी जिले के अधिकारियों को प्रशासनिक मामले की कभी कोई जानकारी नहीं होती

अखिलेश कुमार अखिल

दक्षिणी पूर्वी जिले के अधिकारियों को प्रशासनिक मामले की कभी कोई जानकारी नहीं होती ये हाल किसी एक अधिकारी का नहीं बल्कि एसडीएम से लेकर डीएम तक सभी की एक ऐसी स्थिति है।

दक्षिण पूर्वी जिले में खासकर ओखला थाना क्षेत्र, कालिंदी कुंज थाना व शाहीन बाग थाना क्षेत्र में गैस कटिंग, सट्टेबाजी, नशीले पदार्थ एवं अवैध शराब का कारोबार जोरों पर चल रहा है, जिसकी जानकारी पुलिस को दी जाती है परंतु कोई पुलिस कार्रवाई नहीं होती और शायद इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को नहीं होती।

करोना काल में या उससे पहले  जब मीडिया कर्मियों की ओर से प्रशासनिक मामलों का विवरण लेने के लिए फोन किया जाता है सभी अधिकारी एक दूसरे पर मामले को डालने का प्रयास करते हैं इसके बाद भी कोई जवाब नहीं मिलता अधिकारी मामलों को छुपाने के लिए ऐसा करते हैं अन्य कारण से लेकिन अधिकारियों से इस तरह के व्यवहार और जवाब की अपेक्षा नहीं की जा सकती उनके व्यवहार के कारण कहीं ना कहीं पूरे प्रशासन की क्षवि खराब हो रही है इस बात की खूब चर्चा होती है इतनी सफाई से किसी भी मामले को टाल दिया जाता है।

आज के समय में उपरोक्त क्षेत्रों में गैस कटिंग अथवा गैस सिलेंडर में से गैस निकालने का काम धड़ल्ले से चल रहा है जिसकी जानकारी विभाग व प्रशासन को खबर, व्हाट्सएप, फेसबुक व अन्य माध्यमों से प्रशासन को दी जा चुकी है अब आगे की कार्रवाई क्या होती है यह तो समय बताएगा।