रेत माफिया ने पुलिस अधिकारी को पीटा, कहा- पैसे भी लेते हो और परेशान भी करते हो

मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले के ग्राम गढ़ी में रेत माफिया ने असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (एएसआइ) को धमकाते हुए चांटा मारा और धक्का देकर जमीन पर पटक दिया। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद मामला उजागर हुआ। वीडियो में दिख रहा है कि घटना के वक्त एक कांस्टेबल रेत माफिया के आगे गिड़गिड़ा दिखा रहा है। पिट रहे एएसआइ ने भी किसी तरह का प्रतिकार नहीं किया, बल्कि हाथ बांधकर और सिर झुकाकर रेत माफिया की धमकी व अपशब्द सुनते रहे।

रेत माफिया ने पीटा को एएसआइ  

सुबह करीब आठ बजे ग्राम गढ़ी में चेकिंग करने गए एएसआइ राजेंद्र जादौन को रेत माफिया ने इस बात पर पीट दिया कि उन्होंने रेत की ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को रोक लिया था। रेत माफिया ने एएसआइ को कहा कि मुझे जेल जाने से डर नहीं लगता।

 परेशान भी करते हो और पैसे भी लेते हो

एंट्री के नाम पर पैसा लेते हो, फिर भी परेशान करते हो। एक रेत माफिया एएसआइ जादौन पर टूट पड़ता है। पहले थप्पड़ मारता है फिर धक्का देकर जमीन पर पटक देता है। एएसआइ के साथ मौजूद कांस्टेबल छोटे लाल रेत माफिया के सामने गिड़गिड़ाता रहा। एएसआइ को पीटने के बाद रेत माफिया अपने ट्रैक्टर-ट्रॉली ले गया। जाते-जाते धमकी देकर गया कि अब फोन भी मत लगा देना, नहीं तो अच्छा नहीं होगा।

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है, क्योंकि इससे रेत माफिया से सांठगांठ उजागर होती दिख रही है। पिटाई के बाद भी एएसआइ व कांस्टेबल सिर झुकाकर खड़े रहते हैं। पुलिस अधिकारी फिलहाल घटना के संबंध में इतना ही कह रहे हैं कि आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। घटना से जुड़े अन्य पहलुओं की भी जांच की जाएगी।

सहायक कलेक्टर को भी धमकाया,कांस्टेबलों को पीट चुके

ग्राम गढ़ी में पुलिस का चेकिंग पाइंट है। करीब दो महीने पहले इसी जगह रेत माफिया ने दो कांस्टेबल को बुरी तरह पीटा था।  तत्कालीन थाना प्रभारी सतीश साहू से इसकी शिकायत की, लेकिन रेत माफिया पर तो कोई कार्रवाई नहीं हुई बल्कि तीन दिन बाद दोनों कांस्टेबल को लाइन अटैच कर दिया गया। 26 जून को विजयपुर के गोहटा रोड पर ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ने पर 15 से ज्यादा रेत माफिया ने सहायक कलेक्टर व प्रभारी एसडीएम नवजीवन विजय एवं तहसीलदार अशोक गोबडि़या के साथ झूमाझपटी की थी।