पटना में जनशताब्‍दी एक्‍सप्रेस व कार की भीषण टक्‍कर

बिहार में शनिवार की सुबह बड़ा हादसा हुआ है। पटना के पुनपुन के पास जनशताब्दी एक्‍सप्रेस व कार के टकरा जाने से चार लोगों की घटना-स्थल पर ही मौत हो गई। मृतकों में तीन की पहचान कर ली गई है। दुर्घटना में गंभीर रूप से घायलों को देखते हुए मृतकों की संख्‍या बढ़ने की आशंका है। गंभीर रूप से घायल चार लोगों को इलाज के लिए पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल भेजा गया है।

ट्रैक पर फंसी बोलेरो से टकराई जनशताब्‍दी एक्‍सप्रेस

शनिवार की सुबह एक कार एक अवैध रेलवे क्रॉसिंग पार करते वक्‍त पटरी पर ही फंस गई। इसी बीच पटना से रांची जाने वाली जनशताब्दी एक्‍सप्रेस आ गई। ट्रेन के चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाई, लेकिन दुर्घटना हो ही गई।

मृतकाें में तीन की पहचान

ट्रेन के कार से टकराने पर भयानक आवाज हुई। इस दौरान ट्रेन भी पूरी तरह हिल गई। आवाज सुन आसपास के लोग दौड़े। उन्‍होंने बोलेरो सवार लोगों को तत्‍काल मदद दी, लेकिन चार की मौके पर ही मौत हो चुकी थी। बोलेरो में कितने लोग सवार थे, फिलहाल स्पष्ट नही हो सका है। अभी तक मिली जानकारी के अनुसार पास के ही धरहरा के सुरेन्द्र सिंह की बेटी, दामाद और नाती की मौके पर मौत हुई है।

दिल्‍ली में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे दंपती

हादसे की शिकार गाड़ी दिल्‍ली में निबंधित है। गाड़ी पर सवार सुरेन्द्र बिहारी सिंह (42 वर्ष) व निलिका बिहारी सिंह (35 वर्ष) के साथ उनकी बेटी ब्रेभो कुमारी (3 वर्ष) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। यह परिवार धरहरा गांव से अपने घर पटना के बोरिंग रोड लौट रहा था कि रास्‍ते में हादसा हो गया। धरहरा में सुरेंद्र बिहारी सिंह का ससुराल था। स्वजनों ने बताया कि दोनों पति-पत्नी नोएडा में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे।