एक सप्ताह पहले सास की हत्या करने वाले शख्स ने तिहाड़ जेल में लगाई फांसी !

पिछले सप्ताह सास की हत्या की हत्या के आरोप में तिहाड़ जेल में बंद शख्स ने शुक्रवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि तिहाड़ जेल नंबर-4 में चद्दर का फंदा बनाकर आरोपित फांसी पर झूल गया। आत्महत्या करने वाले शख्स का नाम रवि था। द्वारका जिला पुलिस उपायुक्त एंटो अल्फोंस के मुताबिक, पिछले सप्ताह रवि ने अपनी सास शशि बाला (62) की हत्या कर दी थी। गिरफ्तारी के बाद कोर्ट ने उसे तिहाड़ जेल भेज दिया था।

सास की हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद जब आरोपित भागने की कोशिश में था तभी वहां से गुजर रहे कांस्टेबल की नजर आरोपित पर पड़ी और उसे दबोच लिया गया।

आरोपित रवि अपने परिवार के साथ मोहन गार्डन इलाके में रहता था। रवि पर हत्या, हत्या का प्रयास और दुष्कर्म के मामले दर्ज हैं। वर्ष 2019 में दर्ज दुष्कर्म के मामले में आरोपित को जेल जाना पड़ा। नवंबर में आरोपित को जमानत मिल गई और वह जेल से बाहर आ गया। इस बीच आरोपित की पत्नी मायके आकर रहने लगी। जेल से बाहर आने के बाद रवि अपनी पत्नी व बच्चे को लेने ससुराल गया, लेकिन वे लोग आने को राजी नहीं हुए।

आरोपित को इस बात का शक था कि उसकी सास उसकी पत्नी व बच्चे को उसके खिलाफ भड़काती है, जिस कारण वह वहां से नहीं निकल पा रही है। पूरी योजना के तहत आरोपित ने बर्फ काटने में प्रयुक्त होने वाला सुआ वारदात से चार दिन पहले खरीदा, आरोपित रवि ससुराल गया। यहां उसने सास को अकेले पाकर उनके उपर सुए से कई वार किए। इस बीच आस पड़ोस के लोग व आरोपित की पत्नी अपनी मां के बचाव में आई, लेकिन आरोपित ने सभी को मारपीट के दौरान घायल कर दिया। इसके बाद आरोपित वहां से भागने लगा। लेकिन मौके पर मौजूद भीड़ उसे पकड़ने का प्रयास करने लगी। इसी दौरान मोहन गार्डन थाने में तैनात कांस्टेबल संदीप और अश्विनी भीड़ देखकर वहां पहुंच गए। जिसके बाद दोनों ने मिलकर रवि को पकड़ लिया।