54 साल की उम्र में माइक टायसन दोबारा रिंग में वापसी

लंदन। मुक्केबाजी की दुनिया के बादशाह कहे जाने वाले माइक टाइसन के जोरदार पंच एक बार फिर से चाहने वालों को दीवाना बनाने वाले हैं। अपने करियर के दौरान विवादों में रहने वाले इस दिग्गज ने एक बार फिर से अपने चाहने वालों के बीच मुक्केबाजी के लिए उतरने का फैसला लिया है। 54 साल की उम्र में टाइसन एक बार फिर से रिंग में बॉक्सिंग ग्ल्बस पहने पंच लगाते नजर आएंगे।

सालों पहले मुक्केबाजी को अदविदा कहने वाले 54 साल के पूर्व विश्व हैवीवैट मुक्केबाजी चैंपियन माइक टायसन 12 सितंबर को दोबारा रिंग में वापसी करेंगे। उनके सामने उतरने वाला खिलाड़ी भी हमउम्र ही होगा। हालांकि इस मैच में रोमांच पहले वाला ही होगा लेकिन यह किसी आम पेशेवर मुक्केबाजी मुकाबले से अलग होगा। टाइसन 51 साल के रॉय जोंस जूनियर से आठ राउंड के प्रदर्शन मैच में भिड़ेंगे।

माइक ने अपनी वापसी की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए चाहने वालों को दी है। उन्होंंने ट्विटर पर एक पोस्ट करते हुए लिखा, मैं वापसी कर रहा हूं। इस पोस्ट के साथ उन्होंने अपने प्रैक्टिस का वीडियो डाला है जिसमें वह बॉक्सिंग ग्ल्बस पहने मैच की तैयारी करते नजर आ रहे हैं। यह टक्कर लॉस एंजिल्स में होगी। टायसन ने कहा कि यह रोमांचक होगा। जोंस ने आखिरी मुकाबला 2018 में लड़ा था। टायसन ने 20 साल की उम्र में 1986 में ट्रेवर बेरबिक्स को हराकर विश्व हैवीवैट चैंपियन का खिताब जीता था। वे सबसे कम उम्र में यह उपलब्धि पाने वाले मुक्केबाज बने थे। अपने करियर में उन्होंने 58 पेशेवर मुकाबलों में से 50 जीते हैं। 2005 में केविन मैकब्राइड से हार के बाद उन्होंने संन्यास ले लिया था।