SDMC के प्रस्तावित टैक्स बढ़ोतरी का AAP ने किया विरोध, वापस लेने की मांग

नई दिल्ली । आाम आदमी पार्टी (आप) ने दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की तरफ से प्रस्तावित टैक्स का विरोध किया है। आप नेता और दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने प्रेसवार्ता कर कहा कि जनता कोरोना के चलते आर्थिक तंगी की शिकार है। ऐसे में टैक्स बढ़ोतरी करना उचित नही है। उन्होंने प्रस्तावित टैक्स को तुरंत वापस लेने की मांग की है।

गोपाल राय ने कहा कि अगर नगर निगम ने प्रस्तावित टैक्स को वापस नहीं लिया तो आम आदमी पार्टी जनजागरण अभियान चलाएगी।

कोरोना काल में SDMC द्वारा दिल्ली वालों पर चार तरह के करों ( Professional, Unauthorized Colony, Property Transfer, Electricity Tax) में बढ़ोतरी का एलान किया गया है जोकि जनता के साथ धोखा है।

इसके अलावा गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली सरकार 4,667 करोड़ रूपये MCD को देती है जो पहली सरकारों से 1,322 करोड़ रूपये ज्यादा है। इसके अलावा 3,815 करोड़ रूपये MCD को लोन के रूप में दिया है। इसके बावजूद डॉक्टरों की तनख्वाह क्यों नही दी जा रही है।

पीएम स्वनिधि के लिए जोन कार्यालयों में करें आवेदन: छैल बिहारी गोस्वामी

वहीं, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के स्थायी समिति के अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी ने बताया कि रेहड़ी-पटरी संचालकों की मदद के लिए केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना (पीएम स्वनिधि) के तहत सभी जोन में नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिए गए है। इसके तहत लाभ लेने वाले रेहड़ी पटरी संचालक प्रत्येक जोन कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं।

गोस्वामी ने बताया कि इस योजना के तहत 10 हजार रुपये तक का ऋण रेहड़ी पटरी वालों को दिया जा रहा है। ताकि वह लॉकडाउन और कोरोना की वजह से हुई दिक्कतों के बीच अपना व्यापार फिर से शुरू कर सकें। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने गरीब से गरीब नागरिक की मदद के लिए योजनाएं शुरू की है। इनका उद्देश्य नागरिकों आत्मनिर्भर बनाना है।